Download Our App

खरगोन कलेक्टर की फटकार से तुरंत कार्यवाही !

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

[the_ad id='14901']

स्वतंत्र पत्रकार संतोष गुप्ता की सी एम हेल्प लाइन पर तुरंत कार्यवाही !
खरगोन – खरगोन कलेक्टर श्री शिवराज जी वर्मा के आदेश के तुरंत बाद ही 6 नवंबर 22 की शिकायत में गति आई और उसे एल -2 अधिकारी को दे दिया गया , देखना यह है की नगर की प्रकाश स्मृति सेवा संस्थान और प्रोफेसर पी सी फाउंडेशन दोनो कम्पनी के विरुद्ध की गई नगर के 60 वर्षीय वरिष्ठ स्वतंत्र पत्रकार द्वारा की गई शिकायत का आगे क्या होता है , इस संबंध में संतोष गुप्ता का एक पवित्र उद्देश्य है और वे खरगोन शहर के हायर सेकेंड्री स्कूल क्रमांक दो के गणित के यू डी टी रवि शंकर महाजन की राजनीतिक ताकत को आजमाना चाहते है जिसमे उन्हे मार डालने तक का डर पैदा किया गया , यहां तक कहा गया की यदि सी एम का फोन कलेक्टर को आ जाए तो कलेक्टर भी रवि महाजन के विरुद्ध एफ आई आर दर्ज नहीं कर सकता , 29 सितंबर से प्रकाश स्मृति और प्रोफेसर पी सी फाउंडेशन के विरुद्ध लड़ाई लड़ने वाले स्वतंत्र पत्रकार संतोष गुप्ता जब भी नगर के सार्वजनिक आयोजनों में जाते है तो नगरवासी उन्हे कहते है रवि महाजन का कुछ भी नही होगा !
प्रकाश स्मृति में आयकर विभाग द्वारा आय पर छूट , और प्रकाश स्मृति के मेंबर से किस्त की देरी पर ढाई सौ रुपए दंड और कोरे चेक पर दिनांक , संस्था का नाम और एक मुश्त ब्याज सहित राशि के चेक को संस्था के मेंबर के खाते में लगाकर बाउंस कराकर धारा 138 में अपनी ही संस्था के निवेशक को जेल भिजवाने वाले रवि शंकर महाजन की मां गंगा बाई कम्पनी की अध्यक्ष है , रवि अपने पिता की अनुकम्पा पर गणित का यू डी टी है , जब से रवि शंकर की नियुक्ति हुई आज तक उसका कोई अधिकारी ट्रांसफर नहीं कर पाया , ग्वालियर से कम्पनी एक्ट में प्रकाश स्मृति कम्पनी बनाकर पिछले 26 वर्षो में एक अरब रुपया का मालिक बनने के बाद , खरगोन शहर के सात महाजन मेंबर ने ग्वालियर से एक और कम्पनी तंजीम ए जरखेज बनाई , उसका मेनेजर खस खस वाड़ी में रहने वाले जाकिर को बनाया गया , तंजीम ए जरखेज के एक एक लाख के 100 मेंबर बनाकर 100 लाख यानी एक करोड़ रुपए इकठ्ठे किए इन मेंबरों को दस साल बाद 11 लाख रुपए या 4 एकड़ जमीन का लालच दिया गया , प्रकाश स्मृति कम्पनी में दस साल के बच्चे को दस लाख चालीस हजार या आजीवन पेंशन का लालच दिया गया , विगत दिनों नगर के एस डी ओ पी श्री राकेश मोहन शुक्ल ने एक मीडिया चेनल में कहा की कम्पनी कह रही है हमने मेंबर को कोई पैंपलेट दिया ही नहीं , बताओ नगर वासियों खरगोन का यह रवि शंकर महाजन कह रहा है मेने तो यह पैंपलेट दिया ही नहीं , काश रवि महाजन अडानी कम्पनी के गौतम अडानी से कुछ सीखते जिसने मीडिया पर आकर अपने निवेशकों के बीस हजार करोड़ रुपए लौटाने की बात की , इसे कहते है देश के ईमानदार नागरिक !
प्रोफेसर पी सी फाउंडेशन के अध्यक्ष भारतीय जनता पार्टी खरगोन के प्रख्यात हिंदूवादी नेता श्री रणजीत सिंह डंडीर है , उन्होंने जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष कार्यकाल में इस कंपनी को करोड़ो की सी सी लिमिट की , दिल्ली से कम्पनी का नाम तंजीम ए जरखेज से प्रोफेसर पी सी फाउंडेशन करवाया !
भारतीय जनता पार्टी देश की ईमानदार , राम भक्त पार्टी है , भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ईमानदारी की शिक्षा अपनी पार्टी को नही संपूर्ण विश्व को देते है , दोनो कम्पनी के पीछे प्रमुख रूप से भारतीय जनता पार्टी ने नेता है , चुकी अभी मध्यप्रदेश में बी जे पी की सरकार , केंद्र में बी जे पी की सरकार , शिकायत करने वाला कट्टर बी जे पी और कट्टर संघ की विचारधारा का ईमानदार पत्रकार जो 1988 से आयकर दे रहा है , जिसके दोनो बेटे पिछले आठ रिटर्न पेश कर चुके है जिनकी आयु तीस वर्ष की है , संतोष गुप्ता सारे कैमरे बिल से लेकर हजारों रुपया का जी एस टी सरकार को देते है , संतोष गुप्ता अपने बच्चो को सदेव ईमानदारी , देशभक्ति का पाठ पढ़ाते है , देखना यह है की अब नए कलेक्टर श्री शिवराज जी वर्मा इन दोनो कम्पनियों के अरबों रूपयो के खेल में क्या कार्यवाही करते है , भारत का इतिहास कम्पनी द्वारा गरीब , भोले भाले ग्रामीण और मध्यम वर्ग के लाखो रुपए लूट कर उन्हें नही देना का रहा है , आइए हम सब मिलकर खरगोन शहर की दोनो कम्पनी के विरुद्ध कलेक्टर साहेब और 181 पर सामूहिक शिकायते और करे !
खरगोन से स्वतंत्र पत्रकार संतोष गुप्ता की रिपोर्ट !
98262- 29657

Leave a Comment