Download Our App

मोदीजी ! पी एम ओ में अक्टूबर 2022 की मेरी शिकायत अभी तक निराकरण नहीं हुआ !

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

[the_ad id='14901']

खरगोन – ये है खरगोन का सरकारी शिक्षक रविशंकर महाजन ….
सेक्शन -8 में इस व्यक्ति ने ग्वालियर से दो कम्पनी रजिस्टर्ड करवाई …
पहली कम्पनी प्रकाश स्मृति कम्पनी …
प्रकाश इसके बाप का नाम है …
इसमें इसने लगभग 22 हजार लोगो से 1540 प्रत्येक से लेकर करोड़ो रुपया इकठ्ठा किया और उसे ब्याज पर लोन के रूप में केवल प्रकाश स्मृति कम्पनी के शेयर होल्डर को दो शेयर होल्डर की गवाही पर देना शुरू किया
लोन देने से पहले रविशंकर शेयर होल्डर से 12 चेक कोरे जिस पर शेयर होल्डर की केवल साइन होती करवा लेता
किस्त लेट होने पर प्रकाश स्मृति कम्पनी शेयर होल्डर से 250 रुपए दंड लेती
जब कोई शेयर होल्डर किसी कारण वश बेचारा किसी पारिवारिक परेशानी के कारण इस कम्पनी का लोन नहीं दे पाता तो ये रविशंकर उसका रखा हुआ कोरा चेक निकालता , उस चेक पर तारीख लिखता , अपनी कम्पनी का नाम लिखता और लोन की पूरी राशि ब्याज सहित लिखता और कम्पनी के शेयर होल्डर के खाते में लगा देता …
चेक बाउंस होता
फिर उस चेक को रविशंकर कोर्ट में लगा देता
बेचारा प्रकाश स्मृति कम्पनी का शेयर होल्डर जिसने कम्पनी का शेयर लिया अब कोर्ट में जाता
चेक बाउंस के अपराध में प्रकाश स्मृति कम्पनी के बड़वानी के शेयर होल्डर को इस सरकारी शिक्षक रवि शंकर महाजन ने जेल करवा दी
इतना पैसे का भूखा आदमी है ये रविशंकर
इस सरकारी शिक्षक ने भारत सरकार के आर बी आई और न्यायालय को भी मूर्ख बनाया है
आर बी आई के नियम अनुसार सेक्शन 8 की कम्पनी शेयर होल्डर के कोरे चेक नही ले सकती
न्यायालय को रविशंकर ने मूर्ख ऐसे बनाया की वास्तव में शेयर होल्डर ने तो तारीख , कम्पनी का नाम और चेक की राशि लिखी नही
ये तीन काम तो रविशंकर महाजन सरकारी शिक्षक ने किया
नियम 138 धारा कहती है पूरा चेक यदि आपने दिया और आपने बाउंस करवा दिया तो 138 अपराध बनता है
प्रकाश स्मृति कम्पनी के शेयर होल्डर को तो मालूम ही नहीं और उसके खाते से चेक बाउंस हो गया
बंधुओ !
अक्टूबर 2022 में भारत सरकार के पी एम ओ ने मेरी शिकायत दर्ज की , वहा से सी एम हेल्प लाइन में आई और अभी एल 4 में है
किंतु इस सरकारी शिक्षक जो खरगोन के स्कूल में गणित का शिक्षक है
एक ही स्कूल में 30 साल हो गए
इस सरकारी शिक्षक पर अभी तक कोई कार्यवाही नही होना यह सिद्ध करता है की इसकी सेटिंग बहुत तगड़ी है ! जिले के गरीब , किसान , मजदूर और छोटे व्यापारी के लिए मेरी लड़ाई जारी रहेगी , खरगोन कोर्ट भी इसका खुद संज्ञान ले सकता है ! खरगोन से संतोष न्यूज की रिपोर्ट !🙏

Leave a Comment