Download Our App

पूरे भारत का प्रशासन और सरकार सरकारी शिक्षक रवि शंकर महाजन के समक्ष नतमस्तक , 14 माह बाद भी भारत सरकार का पी एम ओ और मध्यप्रदेश सरकार की सी एम हेल्प लाइन सरकारी शिक्षक के विरुद्ध कार्यवाही में असमर्थ !

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

[the_ad id='14901']

खरगोन – बंधुओ !
खरगोन के प्रकाश स्मृति कम्पनी के डायरेक्टर रविशंकर महाजन एक सरकारी शिक्षक है
और
प्रोफेसर पी सी फाउंडेशन कम्पनी के डायरेक्टर रणजीत सिंह डंडीर सहकारी प्रबंधक रहे है , खरगोन की सहकारी बैंक में
रणजीत डंडीर ने दो करोड़ रुपए की सी सी लिमिट की पी सी फाउंडेशन की , दिल्ली के कारपोरेट मंत्रालय से तंजीम ए जरखेज कम्पनी का नाम बदलवाया , और ग्वालियर रजिस्ट्रार का सेक्शन 8 कम्पनी का रजिस्ट्रेशन नंबर नही बदला , बात को समझिए आप ….
रविशंकर सरकारी शिक्षक ने सेक्शन 8 में प्रकाश स्मृति कम्पनी का रजिस्ट्रेशन करवाया , फिर इसी सरकारी शिक्षक ने एक और कम्पनी का सेक्शन 8 में रजिस्ट्रेशन करवाया उस कम्पनी में ताज प्रोजेक्ट के नाम से कारोबार की परमिशन ग्वालियर से ली , गरीब , मजदूर , छोटे किसान और छोटे व्यापारी को मुस्लिम नाम से डराया की गोगावा डाबरिया की इस जमीन पर बूचड़खाना , मुस्लिम आबादी बसेगी , खसखसवाडी खरगोन के जाकिर शेख को तंजीम ए जरखेज कम्पनी का मेनेजर बनाया , सस्ती दरों में जमीनें खरीदी , खरीदी का पैसा के लिए कम्पनी के एक एक लाख के 100 शेयर होल्डर बनाए , उन्हे कहा गया आपको 11 लाख या 4 एकड़ जमीन दूंगा , एक शेयर होल्डर खरगोन ने इंदौर हाय कोर्ट में कम्पनी के विरुद्ध याचिका लगाई है इनके पास नोटिस भी आ गया है , कुशल सोनी जो खरगोन के ज्योतिष बसंत सोनी के भाई है , कुशल सोनी ने गरीबों की रजिस्ट्री इंग्लिश में की ताकि कोई पढ़ ना पाए , नंबर दो का काम सब होने के बाद ये रजिस्ट्री सहकारी बैंक में गिरवी रख दो करोड़ ले लिए , फिर कम्पनी का नाम बदल दिया अब गोकुल प्रोजेक्ट शुरू किया 12 हजार से कम आय वालो को मकान बना कर देने लगे , प्लाट बेचने लगे , प्रकाश स्मृति कम्पनी के एक करोड़ पी सी फाउंडेशन कम्पनी में डाल दिए , कारण जमीन खरीदी बताया , प्रकाश स्मृति कम्पनी में ब्याज का धंधा किया , बारह चेक साइन करवा के रखे , 250 रुपए दंड लेट किस्त का , लोन न देने वाले को कोरे चेक पर अपनी कम्पनी का नाम कम्पनी ने लिखा , दिनांक और राशि लिखी , लोन वाले के खाते से बाउंस करवा कर न्यायालय को गुमराह किया की यह चेक शेयर होल्डर ने दिया , 138 धारा का प्रकाश स्मृति कम्पनी ने दुरुपयोग किया , एक सरकारी शिक्षक रवि शंकर के सामने कलेक्टर , एस पी , विधायक , सांसद , मुख्यमंत्री , प्रधानमंत्री सभी नतमस्तक है , पिछले अक्टूबर 2022 में मेरी शिकायत भारत सरकार के पी एम ओ में दर्ज हुई , फिर वही शिकायत 6 नवंबर 2022 को मध्यप्रदेश की सी एम हेल्प लाइन में दर्ज हुई , खरगोन के पत्रकार की रईस लोगो ने शिकायत की उसकी एफ आई आर हो गई , गिरफ्तारी हो गई , खरगोन का एक पत्रकार पिछले 18 माह से सबूत सहित सरकारी मास्टर रवि शंकर और सहकारी बैंक के प्रबंधक रणजीत सिंह डंडीर के बारे में सरकार और प्रशासन को लिखकर बता रहा है किंतु कोई कार्यवाही नही , लिखने वाले पत्रकार संतोष गुप्ता को मुंबई के उनके मित्र ने मोबाइल किया तुम्हे ये भूमाफिया वाले उड़ा देंगे , खरगोन के लोग कहते है संतोष भाई रात में घर से बाहर मत निकला करो , माननीय मुख्य मंत्री श्री मोहन यादव जी एक बार खरगोन की सफाई करवा दो आप , बहुत नंबर दो के काम होते है खरगोन में , खरगोन के नेताओ की जमीनों की भी खूब चर्चा है एक बार स्पेशल आओ और देखो तो सही , और हा मेरी सी एम हेल्प लाइन पर ठोस कार्यवाही कर गरीब , किसान , मजदूर और छोटे व्यापारी की दुआए ले लो मोहन यादव जी मेरा जीवन धन्य हो जायेगा क्युकी मैं आंदोलन नही कर सकता मेरे पास पैसा नहीं है केवल शब्दो से आंदोलन कर सकता हू , आशा है आप इस पोस्ट के बाद मेरी सी एम हेल्प लाइन पर ठोस कार्यवाही करेंगे !
*संतोष न्यूज खरगोन के संपादक संतोष गुप्ता की रिपोर्ट*

Leave a Comment